देसीटून्ज़

नवम्बर 15, 2007

एक झाड़ू मुझे भी दे दे ठाकुर…

Filed under: आदम और हव्वा..., रूपहला सच — raviratlami @ 4:25 अपराह्न

आदम और हव्वा…

govt dept ko zhadu

भारतीय सरकारी विभागों में वैसे भी झाड़ू फेरने की बहुत जरूरत है… और बहुत अरसे से…

Advertisements

4 टिप्पणियाँ »

  1. बहुत अच्छे.

    टिप्पणी द्वारा kakesh — नवम्बर 16, 2007 @ 12:59 पूर्वाह्न

  2. यहाँ झाड़ू से काम नही चलेगा झाड़ू के बहुवचन से काम चलाना पड़ेगा, वैसे उसे कहेंगे क्या।

    टिप्पणी द्वारा Tarun — नवम्बर 16, 2007 @ 3:50 पूर्वाह्न

  3. बहुत खूब!

    टिप्पणी द्वारा balkishan — नवम्बर 16, 2007 @ 7:51 पूर्वाह्न

  4. madhya pradesh ke sabhi sarkari vibhago me zhadu lagane layak hai.

    टिप्पणी द्वारा sher bahadur singh — जुलाई 21, 2011 @ 10:42 पूर्वाह्न


RSS feed for comments on this post. TrackBack URI

एक उत्तर दें

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out / बदले )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out / बदले )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out / बदले )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out / बदले )

Connecting to %s

वर्डप्रेस (WordPress.com) पर एक स्वतंत्र वेबसाइट या ब्लॉग बनाएँ .

%d bloggers like this: