देसीटून्ज़

फ़रवरी 14, 2007

डिजिटाइज़्ड राशन…

Filed under: आदम और हव्वा..., रूपहला सच — raviratlami @ 8:42 पूर्वाह्न

आदम और हव्वा… 

digital-rashan.JPG

Advertisements

3 टिप्पणियाँ »

  1. ना जी. कार्ड ही घून लगा मिलेगा. 🙂

    टिप्पणी द्वारा संजय बेंगाणी — फ़रवरी 14, 2007 @ 1:19 अपराह्न

  2. 🙂 और संजय भाई की टिप्प्णी ने चार चाँद लगा दिये. 🙂

    टिप्पणी द्वारा समीर लाल — फ़रवरी 15, 2007 @ 1:56 अपराह्न

  3. ठीक है भई अब इतना कुछ हो रहा है तो घुण को भी चना छोड़ गेहु मे आना पड़ा क्यू रविजी।

    टिप्पणी द्वारा TallyHelper — मार्च 5, 2007 @ 11:13 अपराह्न


RSS feed for comments on this post. TrackBack URI

एक उत्तर दें

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out / बदले )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out / बदले )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out / बदले )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out / बदले )

Connecting to %s

WordPress.com पर ब्लॉग.

%d bloggers like this: